जब आपका विवेक दोषी ठहराए 2

Hope for Today (Hindi)
Hope for Today (Hindi)
जब आपका विवेक दोषी ठहराए 2
/
उत्पत्ति 50:15-18